निविदा / नीलामी नोटिस  
  स्थापना आदेश  
  जन सूचना  
  शिपिंग बिल  
  बिल ऑफ एंट्री  
  पुरस्कार  
  फीडबैक  
  दावा अस्वीकृति  
  विभागीय परिपत्र/अनुदेश/आदेश  
  इंसिडेंट रिपोर्ट  
       


 
हमारे बारे में
 
आयुक्त का सन्देश
प्राथमिक रूप से विनिर्दिष्ट स्थल सीमा शुल्क चौकियों से होते हुए भारत-नेपाल सीमा एवं भारत-चीन सीमा में वस्तुओं के निर्बाध आवागमन को सुगम बनाने के साथ ही अन्य रास्तों से होने वाली तस्करी को रोकने के लिए, इस आयुक्तालय, जिसका क्षेत्राधिकार उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड राज्यों तक फैला हुआ है, का सृजन किया गया था। ये दोनों कार्य एक ही प्रकार के प्रतीत होते हैं जबकि ये परस्पर एक दूसरे के विपरीत हैं। हमारा सतत प्रयास रहा है की ऐसा वातावरण तैयार कृत्य जाये जिसमें व्यापारियों द्वारा ऐच्छिक अनुपालन को बढ़ावा मिले ताकि वस्तुओं के निर्बाध आवागमन को सुनिश्चित किया जा सके। नेपाली वस्तुओं के आयात को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने ऐसी वस्तुओं को सीमा शुल्क भुगतान से मुक्त केर दिया है और केवल के0उ0 शुल्क के समतुल्य शुल्क (सी0वी0डी0) का ही भुगतान अपेक्षित है।
नेपाल से आयात और निर्यात की मात्र में प्रतिवर्ष उत्तरोत्तर प्रगति हो रही है और यह देखना अत्यंत उत्साहवर्धक है कि संगठित तस्करी में क्रमशः कमी हो रही है। यह केवल सीमा पर तैनात विभागीय अधिकारीयों की तत्परता एवं सजगता के कारण ही नहीं बल्कि लोगों में अनैतिक रूप से तस्करी एवं उसके खतरों के प्रति आयी जागरूकता के कारण संभव हो सका है। विभाग से जालसाजी करने वाले अराजकतत्वों पर कड़ी निगरानी रखते हुए एक उत्तरदायित्व एवं करदाता मैत्रीपूर्ण वातावरण प्रदान करने की अपनी जिम्मेदारी से हम अवगत हैं। हमारे पास इन दोनों कोण पहचानने का पर्याप्त कौशल है। ये भी संभव है कि हमारे कुछ अति उत्साही अधिकारी अपनी सीमाओं क लांघकर आम जनत एके मूल अधिकारों में हस्तक्षेप कर दें, यदि ऐसा होता तो कोई भी प्रभावित व्यक्ति हमारी वेबसाइट के माध्यम से हम तक पहुंचने के लिए स्वतंत्र है। इस वेबसाइट में आप देखेंगे कि एक विशिष्ट पॉपअप उपलब्ध है जिस पर ऐसे दोषी अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी जा सकती है। मैं आशा केटा हूँ कि यह वेबसाइट सूचनाओं के प्रसार एवं आप तक प्रभावशाली ढंग से पहुंचने योग्य सिद्ध होगी।